Registration UP Bhagya Laxmi Yojana 2023 यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना ऑनलाइन आवेदन

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना राज्य सरकार द्वारा गरीब परिवारों की लड़कियों को आर्थिक रूप से लाभान्वित करने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के तहत, राज्य सरकार बालिका के जन्म के बाद बालिका को 50000 रुपये की सहायता प्रदान करेगी। बेटी की मां को भी यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत 5100 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना शुरू करने के पीछे खासकर केंद्र सरकार का मकसद कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराधों को रोकना है। इस लेख के माध्यम से उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई है, अधिक जानकारी के लिए इस लेख को शुरू से अंत तक ध्यान से पढ़ें।

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना 2023

समाज में बेटियों के लिए नकारात्मक सोच रखी जाती है, जिससे कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराध होते हैं। इस सोच को सुधारने के लिए सरकार द्वारा तरह-तरह की योजनाएं चलाई जाती हैं। यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना भी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित है। उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की बेटियों को सरकार द्वारा 50000 रुपये की राशि प्रदान की जाती है। इसके अलावा बेटी की मां को ₹5100 की राशि भी दी जाती है। इस लेख के माध्यम से आपको यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया के बारे में बताया जाएगा। इसके अलावा आप इस लेख के माध्यम से यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं और पात्रता से संबंधित जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे।

इस योजना के तहत लाभार्थी के पास बैंक खाता होना चाहिए क्योंकि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली राशि लाभार्थी के बैंक खाते में जमा की जाएगी। इस यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के तहत, माता-पिता को 3,000 रुपये, कक्षा 6 में प्रवेश करने पर 3,000 रुपये, कक्षा 8 में 5,000 रुपये, कक्षा 10 में 7,000 रुपये और कक्षा 12 में 8,000 रुपये दिए जाएंगे। इस योजना के तहत कुल 2 लाख रुपये की राशि लड़की के 21 वर्ष की आयु तक लड़की के माता-पिता को आर्थिक सहायता के रूप में लड़की के माता-पिता को लड़की के 21 वर्ष की आयु तक प्रदान की जाएगी। . तभी वह इस उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 का लाभ उठा सकता है।

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते हैं कि बहुत से लोग हैं जो एक लड़की के पैदा होने से पहले ही उसे मार देते हैं। कई गरीब परिवार आर्थिक तंगी के कारण लड़कियों को जन्म नहीं देते हैं। जिससे लड़कियों की संख्या घट रही है। इन सभी समस्याओं को देखते हुए राज्य सरकार ने इस योजना के माध्यम से कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से राज्य के लोगों की लड़कियों के प्रति नकारात्मक सोच को बदलना है। बेटियों के जीवन स्तर को ऊपर उठाना है। यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से बालिका की शिक्षा के लिए मिलने वाली राशि जन्म से ही प्राप्त हो जाएगी। भाग्यलक्ष्मी योजना से कन्याओं के विवाह में कोई कठिनाई नहीं होगी।

UP 2 Child Policy 2023

Bhagya Laxmi Yojana Application Form

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी अपनी बेटी को इस योजना के तहत लाभान्वित करना चाहते हैं तो उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करना होगा। उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ राज्य के गरीब परिवारों की बेटियों को ही दिया जाएगा। इस योजना के तहत केवल वे लोग जो बीपीएल के अंतर्गत आते हैं या जिनकी वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम है (जो बीपीएल के तहत हैं या जिनकी वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम है।), यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के तहत लाभान्वित होंगे। यह योजना केवल बीपीएल परिवार की दो बच्चियों के लिए है। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश की लड़कियों को भी शिक्षा प्राप्त करने में मदद की जाएगी।

Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana 2023 Key Highlights

योजना का नाम यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना
इसके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
विभाग महिला और बाल विकास विभाग
लाभार्थी राज्य की लड़किया
उद्देश्य लड़कियों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइट http://mahilakalyan.up.nic.in/ click Here

 

Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana 2023 के दस्तावेज़

  • माता पिता का आधार कार्ड

  • निवास प्रमाण पत्र

  • आय प्रमाण पत्र

  • जाति प्रमाण पत्र

  • भाग्यलक्ष्मी योजना में हिस्सा लेने के लिए बेटी का जन्म जहाँ हुआ है उस अस्पताल का बालिका का जन्म प्रमाण पत्र

  • बैंक अकाउंट पासबुक

  • मोबाइल नंबर

  • पासपोर्ट साइज फोटो

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के लाभ

  • यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के लाभ

  • इस योजना का लाभ राज्य के आर्थिक उपखण्ड के गरीब परिवारों की बेटियों को दिया जायेगा।

  • यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के तहत बेटी के जन्म पर उसके खाते में 50000 रुपये की राशि जमा कराई जाएगी और मां को भी 5100 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

  • इसके अलावा कक्षा छह में पहुंचने पर बालिका को तीन हजार रुपये, आठवीं में पांच हजार रुपये, 10वीं में सात हजार रुपये और 12वीं कक्षा में पहुंचने पर आठ हजार रुपये दिए जाएंगे।

  • जब लड़की 21 वर्ष की हो जाएगी तो उसके माता-पिता को सरकार द्वारा 2 लाख रुपये दिए जाएंगे।

  • इस योजना के तहत एक परिवार की केवल दो बेटियों को ही प्रदान किया जाएगा।

  • शिक्षा प्राप्त करने के लिए, बालिका को एक सरकारी शिक्षण संस्थान में नामांकित किया जाना चाहिए।
    लड़कियों की शिक्षा का स्तर ऊंचा होगा।

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना 2023 की पात्रता

  • आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम होगी।

  • जन्म प्रमाणपत्र के उत्पादन पर बच्चे के जन्म के एक वर्ष बाद तक जन्म दर्ज किया जाना चाहिए।

  • यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना 2023 के तहत लड़की की शादी 18 साल से कम उम्र में नहीं होनी चाहिए।

  • माता-पिता उत्तर प्रदेश के मूल निवासी होने चाहिए।

  • बच्ची का स्वास्थ्य विभाग (स्वास्थ्य विभाग) से टीकाकरण कराना जरूरी है।

  • 31 मार्च 2006 के तहत संपूर्णा में गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) में जन्म लेने वाली सभी लड़कियां इस योजना का लाभ लेने की पात्र हैं।

Registration UP Bhagya Laxmi Yojana

Click Here

Download UP Bhagya Laxmi Yojana Form

Click Here

Join Telegram

Click Here

UP Bhagya Laxmi Yojana Login

Click Here

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना 2023 में आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले जालसाजी महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

  • आपको आधिकारिक वेबसाइट से यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना आवेदन पत्र का पीडीएफ डाउनलोड करना होगा।

  • पीडीएफ डाउनलोड करने के बाद आपको अपने आवेदन पत्र में सभी जानकारी जैसे नाम, जन्म तिथि आदि भरनी होगी।

  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको अपने सभी दस्तावेज आवेदन पत्र के साथ संलग्न करने होंगे।

  • इसके बाद आपको अपना आवेदन पत्र अपने नाम से महिला कल्याण विभाग के कार्यालय में जमा करना होगा। इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जाएगा।

FAQs.

उत्तर प्रदेश में भाग्य लक्ष्मी योजना 2017 में शुरू की गई थी। यह एक छात्रवृत्ति योजना (बालिकाओं के लिए पैसा) है। भाग्य लक्ष्मी योजना नाम की नई विकास योजना का लक्ष्य कन्याओं को बेहतर अवसर प्रदान करना है। इस योजना के तहत, राज्य सरकार लड़कियों को पालने और शिक्षित करने के लिए परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।

धनलक्ष्मी योजना क्या है?

कन्या भ्रूण हत्या रोकने और बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार की धनलक्ष्मी योजना 2008 में लांच की गई। इस योजना के अंतर्गत बालिका का जन्म पंजीकरण, टीकाकरण, शिक्षा और 18 वर्ष की आयु के बाद ही विवाह किए जाने पर 1 लाख रुपए की बीमा राशि दिए जाने का प्रावधान है।

Leave a Comment